જીવન એવું જીવી ગયા- Jivan Evu Jivi Gaya Shradhanjali Quotes

आप सबका हमारे ब्लॉग hindi-english.net में बहोत बहोत स्वागत छे. आज हम “જીવન એવું જીવી ગયા શ્રદ્ધાંજલિ ક્વોટ (Jivan Evu Jivi Gaya Shradhanjali Quotes in Gujarati)” पोस्ट में गुजरातमें बहोत उपयोग होने वाले श्रद्धांजलि उद्धरण (Tribute Quotes) के बारेमे बात करने वाले है. आशा है हमारी सभी पोस्ट की तरह आपको यह पोस्ट भी जरूर पसंद आएगी।

गुजरात मे आज यह दोनों श्रद्धांजलि उद्धरण सबसे ज्यादा सोसियल मीडिया में शेर किये जाते है, और आप भी इस क़्वोट को आसानी से शेर कर सकते है. यहाँ दिए गए text और photos को आप Facebook, Instagram, Twitter, Sharechat जैसे कोई भी सोसियल मीडिया प्लेटफॉर्म में फॉरवर्ड कर सकते है.

जब हमारे नजदीकी रिश्तेदार या कोई भी व्यक्ति इस दुनिया को छोड़ के हमसे दूर चले जाते है तो हमें बहोत बुरा लगता है, लेकिन यह दुनिया की नियति है तो हम कुछ नहीं कर सकते। सब लोगो का दुःख व्यक्त करनेका और श्रद्धांजलि अर्पण करने का तरीका अलग अलग होता है.

જીવન એવું જીવી ગયા શ્રદ્ધાંજલિ ક્વોટ (Jivan Evu Jivi Gaya Shradhanjali Quotes in Gujarati)

यह भी पढ़ें- PM Kisan eKYC Process (पीएम किसान स्टेटस और eKYC)

જીવન એવું જીવી ગયા- jivan evu jivi gaya shradhanjali
જીવન એવું જીવી ગયા- jivan evu jivi gaya shradhanjali

જીવન એવું જીવી ગયા જોવા વાળા જોયા ગયા.
કર્મો સદા તમે એવા કર્યા કે સૌના હૃદય માં ગૂંજ્યા કર્યા.
દુઃખ થી કદી ડર્યા નથી અને સુખ થી કદી છલકાયા નહી,
ધર્મ કદી ભૂલ્યા નહીં.
આપનું પરોપકારી જીવન અમારા દિલમાં હંમેશા અમર રહેશે.
મનુષ્ય અવતાર મળવો એ તો એક ભાગ્ય ની વાત છે.
આજે તમારું જીવન અમારી વચ્ચે નથી હાજર,
પણ
પરંતુ તમારી યાદ હમેશ માટે અમારા હૃદય માં કોતરાયેલી રહેશે.
મૃત્યુ પછી પણ લોકો ના દિલમાં જીવિત રહેવું એ જિંદગીમાં કરેલા સારા કર્મો ની નિશાની છે.
આપના દિવ્ય આત્માને પ્રથમ પૂણ્યતિથિએ કોટી કોટી વંદન.
🙏 💐 પ્રભુ આપના આત્મા ને શાંતિ અર્પે એજ એક પ્રાર્થના🙏 💐

જીવન એવું જીવી ગયા- jivan evu jivi gaya shradhanjali quotes
જીવન એવું જીવી ગયા- jivan evu jivi gaya shradhanjali quotes

જીવન એવું જીવી ગયા કે સઉ ના હૃદયમાં વસી ગયા.
આપનો આનંદિત અને સરળ સ્વભાવ હંમેશા માર્ગદર્શન રૂપે અમારી સાથે રહેશે.
🙏 💐 પરમાત્મા આપણી દિવંગત આત્માને શાંતિ આપે તેવી પ્રાર્થના. 💐🙏

જીવન એવું જીવી ગયા કે સઉ ના હૃદયમાં વસી ગયા.
આપનો આનંદિત અને સરળ સ્વભાવ હંમેશા માર્ગદર્શન રૂપે અમારી સાથે રહેશે.
આપનું સરળ અને મહત્વપૂર્ણ જીવન લોકોને હંમેશા યાદ રહેશે.
🙏 💐 પરમાત્મા આપણી દિવંગત આત્માને શાંતિ આપે તેવી પ્રાર્થના. 💐🙏

जीवन और मृत्यु

जो व्यक्ति किसी को सबसे ज्यादा प्यार करता है और वह उसे छोड़कर चला जाये तब उसे बहुत दुख और पीड़ा होती है. तब वह व्यक्ति शोक में डूबा होगा और वह सोच रहे होंगे कि इस विशेष व्यक्ति के बिना आप जीवन में कैसे आगे बढ़ सकते हैं।

इस समय पर सभी व्यक्ति के लिए दिनचर्या में वापस आना चुनौतीपूर्ण होगा जब वह व्यक्ति किसी के जीवन का इतना बड़ा हिस्सा था। हर दिन बस आगे बढ़ने और उनके बिना एक नया जीवन बनाने की कोशिश करने की प्रक्रिया होगी, चाहे कितना भी दर्द हो। लेकिन जन्म और मृत्यु तो एक कठिन सच है और इससे सबको एक दिन गुजरना है.

सभी मनुष्य जन्म लेकर जीवन शुरू करते हैं, और सभी मनुष्य एक दिन जरूर मर जाते हैं। इन दो तरीकों से, हम सभी सीमित हैं, हमारा जीवन अंतहीन नहीं है, लेकिन वे शुरू होते हैं और वे समाप्त हो जाते हैं। पृथ्वी पर मौजूद सभी व्यक्ति को इससे जरूर गुजरना है और मन जाता है की यह एक चक्र है.

तो जन्म लेना मानव अस्तित्व को कैसे व्यवस्थित करता है? सबसे पहले, आइए स्पष्ट करें कि मनुष्य के लिए, जन्म लेना एक निश्चित समय पर अस्तित्व में आना है, और ऐसा करने के लिए गर्भ धारण और गर्भ धारण करके और फिर गर्भ से बाहर निकलना। हम इस प्रकार एक विशिष्ट शरीर के साथ दुनिया में आते हैं, और एक निश्चित स्थान पर, समाज, संस्कृति और इतिहास में रिश्तों और स्थिति में जीवन पसार करते है।

बच्चों को लंबे समय तक पालन-पोषण और शिक्षा की आवश्यकता होती है, हम जीवन पूरी तरह से उन लोगों पर निर्भर करते हैं जो शारीरिक और भावनात्मक रूप से हमारी देखभाल करते हैं। अक्सर, हम समय के साथ और अधिक स्वतंत्र हो जाते हैं, लेकिन पूरी तरह या स्थायी रूप से कभी नहीं होते। हम सभी जीवन में दूसरों पर निर्भर रहते हैं, हमारे निर्वाह के साधन, भाषा, भावनात्मक कल्याण और बुनियादी सामाजिक विश्वास के संबंध में। एक बार जब हम याद करते हैं कि हम बच्चों और शिशुओं के रूप में जीवन शुरू करते हैं, तो निर्भरता स्वतंत्रता से अधिक बुनियादी रूप में उभरती है. स्वतंत्रता निर्भरता की पृष्ठभूमि के खिलाफ होती है, इसके विपरीत नहीं।

हमारी प्रारंभिक निर्भरता के कारण, हमारे देखभाल करने वालों के साथ हमारे शुरुआती संबंधों का हम पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। वे हमारे स्वयं को बनाते हैं, भावनात्मक प्रतिक्रिया, स्वभाव, आदतों और लक्षणों के हमारे पैटर्न को साजा करते है. वे व्यक्तित्व जिनमें वे हमारे लिए महत्वपूर्ण होते हैं। निश्चित रूप से, हम बाद के रिश्तों से गहराई से प्रभावित और सुधार कर सकते हैं। लेकिन हम नए रिश्तों के लिए पिछले वाले के आकार के तरीकों के लिए खुले हैं। जब हम जन्म पर विचार करते हैं, तो हम देखते हैं कि दूसरों के साथ संबंध हमें वह व्यक्ति बनाते हैं जो हम हैं, हमारा व्यक्तिगत स्वार्थ रिश्तों की पृष्ठभूमि के भीतर उत्पन्न होता है।

रिश्ते ही तो जीवन की असली वजह है, सभी मनुष्य इससे घिरा रहता है और जीवन बीतता है. अब एक समय आता है, जब हम अंतिम चरण पर होते है और तब उलटी गिनती शरू हो जाती है. एक दिन निश्चित होता है, जब हमें इस दुनिया को छोड़ के जाना पड़ता है. तो तात्पर्य यह है की मृत्यु की चिंता को छोड़ के हमें आज को जीना है, क्यों की मृत्यु तो एक कड़वा सच है और सभी को यह स्वीकार करना ही पड़ेगा।

Summary

आशा है की “જીવન એવું જીવી ગયા શ્રદ્ધાંજલિ ક્વોટ (Jivan Evu Jivi Gaya Shradhanjali Quotes in Gujarati)” Post आपको पसंद आया होगा और आपको जो जानकरी चाहिए थी वह आपको मिल गयी होगी। अगर फिरभी आपके पास कोई प्रश्न है तो आप निचे comment कर के हमें बता सकते है और हमारे ब्लॉग hindi-english.com को विजिट करते रहे. और हमें Facebook, Instagram, Twitter and Sharechat जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फॉलो करना न भूले, जिससे आपको सभी Update त्वरित मिलते रहे..

Leave a Comment

hindi-english-logo-main

In this website you can find Useful Information, Dictionary, Essay, Kids Learning, Student Material, Stories, Tech Updates, Suvichar and Full Form in Hindi.

Contact us

Address- 17, Einsteinpalais, Friedrichstraße, Berlin Mitte, Berlin, Germany- 10117

hindienglishblog@gmail.com

Mon to Friday
9:00 am to 18:00 pm