फलों के नाम- Fruits Name In Hindi and English

नमस्ते मित्रो आप सभी का हमारे ब्लॉग Hindi-English.net में स्वागत है. आज के “20+ India’s Popular Fruits Name In Hindi and English- Falo Ke Naam Hindi Me (भारतीय फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में)” आर्टिकल में हम सभी बच्चों तथा छात्रों के लिए एक हिंदी में कुछ जेदार जानकरी लेके आये है, जिसमे सभी लोगो को बहोत मजा आएगा।

फलों और सब्जियों में महत्वपूर्ण विटामिन, खनिज और पौधों के रसायन होते हैं, इसके साथ इनमें काफी मात्रा में फाइबर भी होता है। हमारे पास फलों और सब्जियों की कई किस्में उपलब्ध हैं और उन्हें तैयार करने, पकाने और परोसने के कई तरीके हैं। फलों और सब्जियों से भरपूर आहार आपको कैंसर, मधुमेह और हृदय रोग जैसी बिमारिओ से बचने में मदद कर सकता है।

विशेषज्ञों के अनुसार अच्छी सेहत के लिए रोजाना पांच तरह की सब्जियां और दो तरह के फल खाना चाहिए । अधिकांश भारतीय लोग पर्याप्त फल और सब्जियां नहीं खाते हैं, इसके पीछे कही कारण है. इसी वजह से भारत में कैंसर, मधुमेह और हृदय रोग के मरीज ज्यादा है.

इसे जरूर पढ़ें- सब्जियों के नाम- Vegetables Name in Hindi and English

Table of Contents

फल और सब्जियां आपके दैनिक आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा जरूर होना चाहिए। वे स्वाभाविक रूप से आपके लिए जंक फ़ूड से अच्छे होते हैं और इनमें विटामिन और खनिज पर्याप्त मात्रा में होते हैं जो आपको स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। वे आपको कही बीमारियों से बचने में भी मदद कर सकते हैं।

कोई भी विकसित देश के लोग एक संतुलित, नियमित आहार और एक स्वस्थ, सक्रिय जीवन शैली के हिस्से के रूप में अधिक फल और सब्जियां खाने से लाभान्वित होंगे। फलों और सब्जियों की कई किस्में उपलब्ध हैं और उन्हें तैयार करने, पकाने और परोसने के कई तरीके हमारे पास मोजूद हैं।

fruits name in hindi- फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में
fruits name in hindi- फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में

सभी फलो में सेब को बेस्ट माना जाता है और जो हर रोज एक सेब खता है वह शायद कम बीमार होते है. लेकिन वह महंगे होने के कारन भारत जैसे देशो में सभी लोगो के लिए मुमकिन नहीं है. लेकिन अगर आप हर रोज बहार का खाना खाते है तो आपके लिए यह उपयोगी है आप वह छोड़ के एक सेब सेब खाईऐ। चलिए तो फलो के नाम की सूचि की और बढ़ते है.

List of All Fruits Name in Hindi and English (हिंदी और अंग्रेजी में सभी फलों के नामों की सूची)

आज के जीवन में पूरी दुनिया में अंग्रेजी भाषा का व्यापक रूप से उपयोग किया जा रहा है। आपको भी जीवन शैली के साथ चलना होगा और थोड़ी अंग्रेजी सीखनी होगी, जो आपके जीवन में बहोत काम में आएगी। इसी के साथ आज आप इस article में थोड़े जरुरी अंग्रेजी शब्द भी सिख लेंगे।

Fruits Name in EnglishFruits Name in Hindi
Appleसेब (Seb)
Mango आम (Aam)
Banana केला (Kela)
Orange संतरा (Santra)
Coconut नारियल (Nariyal)
Pineapple अनानास (Ananas)
Grapes अंगूर (Angur)
Papaya पपीता (papita)
Sapota चीकू (Chiku)
Guava अमरूद (Amrud)
Lemon नींबू (Nimbu)
Sugar cane गन्ना (Ganna)
Watermelon तरबूज (Tarbuj)
Muskmelon खरबूजा (Kharbuja)
Apricotsआलू बादाम (Allo Badam)
Almond बादाम (Badam)
Pomegranate अनार (Anar)
Raisins किशमिश (Kishmish)
Barberryबर्बरी (barbary)
Blueberry ब्लूबेरी (Blueberry)
Black Currantफालसेब (Fal Seb)
Water chestnutसिंघाड़ा (Sindhada)
Blackberryजामुन (Jamun)
Cashews काजू (kaju)
Cherry चेरी (Cheri)
Custard Apple सीताफल (Sitafal)
Date fruit खजूर (Khajur)
Dragon Fruit ड्रैगन फल (Dregan Fal)
Fig Fruit अंजीर (Anjir)
Lychee लीची (lichi)
Macadamia nut अखरोट (Akhrot)
Mulberry शहतूत (Sahtut)
Nut अखरोट (Akhrot)
Areca nut सुपारी (Supari)
Pear नाशपाती (naspati)
Jackfruitकटहल (Kathal)
Pistachio पिस्ता (Pista)
Sweet Lime मोसंबी (Mosambi)
Citrus चकोतरा (Chakotra)
Tamarind इमली (Imli)
Prickly pear कांटेदार नाशपाती (Kantedar Naspati)
Strawberry स्ट्रॉबेरी (Strobery)
Raspberryरासबेरी (Rasbery)
Acai Berryकाला जामुन (Kala Jamun)
Kiwi कीवी (Kivi)
Dates खजूर (Khajur)
Cranberry क्रैनबेरी (Krenberi)
Pineberry पाइनबेरी (Painberi)
Wood Appleकैथा (Kaitha)

ऊपर आपको हिंदी और अंग्रेजी में फलों के नाम (Fruits Name In Hindi and English) की सूची दिखाई देगी। इस सूची में भारत में सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले और लोकप्रिय फलों के नाम शामिल हैं। अगर हम दुनिया भर से सभी प्रजाति के फलों की सूची बनाने जाएं, तो यह नामुमकिन होगा। दुनिया में हजारो प्रजातियों के कई फल पाए जाते हैं, लेकिन यहां हमने उन आम फलों की सूची में शामिल किया है जिन्हें बच्चे आसानी से समझ सकते हैं।

All Dry Fruits Name in Hindi and English (सभी सूखे मेवों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में)

Dry Fruits Name in EnglishDry Fruits Name in Hindi
Almond बादाम
Pistachio पिस्ता
Cashew काजू
Raisins किशमिश
Walnut अखरोट
Dates खजूर
Apricot खुबानी
Dry Dates सूखे खजूर
Dry Coconuts सूखे नारियल
Areca Nut सुपारी
Dry Figs सूखे अंजीर
Lotus Seeds कमल के बीज
Peanuts कमल के बीज
Pine Nutsचिलगोजा
Pumpkin Seeds कद्दू के बीज
Watermelon Seeds तरबूज के बीज

ऊपर बताए गए सभी फलो के नामें सभी सूखे मेवे हैं। वैसे तो यह सभी फलो की सूचि में ही आते है पर यह सभी फल कच्चे नहीं खा सकते। इसको सूखे होने के बाद खाया जाता है, इसी वजह से इसे ड्राई फ्रूट कहा जाता है.

Fruits Names in Hindi and English PDF (फलों के नामों की पीडीएफ फ़ाइल)

नीचे आपको एक पीडीएफ फाइल मिलेगी जिसे आप आसानी से अपने गूगल ड्राइव या अपने फोन या कंप्यूटर में सेव कर सकते हैं। इस फाइल की मदद से आप इस जानकारी को ऑफलाइन भी पढ़ सकते हैं और अपने दोस्तों को आसानी से शेर कर सकते है।

वैसे तो दुनिया में हजारों फलों के प्रजाति उपलब्ध हैं लेकिन यहां हम भारत के सबसे लोकप्रिय 10 फलों के बारे में चर्चा करेंगे। शायद यह जानकरी आपको पता नहीं होगी.

1. Apple (सेब)

सेब के पेड़ को मालस डोमेस्टिकिया ट्री कहा जाता है जो सेब उगाता है। यह अपने स्वादिष्ट फल के लिए प्रसिद्ध है। यह फलों का पेड़ पूरी दुनिया में उगाया जाता है और चीन इसका सबसे बड़ा उत्पादक है। इस पेड़ को सबसे पहले मध्य एशिया में देखा गया था। सेब हजारों वर्षों से एशिया और यूरोप में उगाए जाते रहे हैं। उन्हें यूरोपीय प्रजातियों द्वारा उत्तरी अमेरिका लाया गया था। कई संस्कृतियों में सेब का धार्मिक और पौराणिक महत्व है।

apple fruits name in hindi- सेब फलों के नाम
apple fruits name in hindi- सेब फलों के नाम

एक सेब का पेड़ आमतौर पर ग्राफ्ट किया जाता है, हालांकि जंगली सेब बीज से आसानी से उगते हैं। बीज से उगाए जाने पर सेब के पेड़ बड़े होते हैं, लेकिन जड़ों पर लगाए जाने पर छोटे होते हैं। दुनिया में सेब की 7,500 से अधिक ज्ञात किस्में हैं, जिनमें कई महत्वपूर्ण विशेषताएं भी शामिल हैं। अलग-अलग स्वाद और उपयोग के लिए दुनिया भर में विभिन्न किस्मों को उगाया जाता है। 2013 में दुनिया भर में सेब का उत्पादन 90.8 मिलियन टन था। अकेले चीन दुनिया के उत्पादन का 49% हिस्सा उत्पादन करता है।

2. Banana (केला)

केला एक प्रकार के फल का सामान्य नाम है और इसे उगाने वाले शाकाहारी पौधों का भी नाम यही है, ये पौधे मूसा के जीनस प्रजाति के हैं। वे दक्षिण पूर्व एशिया के उष्णकटिबंधीय क्षेत्र के मूल निवासी हैं। ऐसा माना जाता है कि पापुआ न्यू गिनी में पहली बार भोजन के लिए केले उगाए गए थे। लेकिन आज, दुनिया भर के उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में इनकी खेती होती है।

ज्यादातर केले के पौधे अपने फलों के लिए उगाए जाते हैं, जो वानस्पतिक रूप से एक प्रकार के बेरी होते हैं। जबकि कुछ को सजावटी पौधों के रूप में या उनके रेशों के लिए उगाया जाता है। आज केले की लगभग 110 विभिन्न प्रजातियां मौजूद हैं।

केले के फल लटकते गुच्छों में केले के फूल मेंसे उगते हैं, जिसे केले का तना भी कहा जाता है। जहा गुच्छों में बीस से अधिक फल हो सकते हैं। जबकि एक गुच्छा का वजन आमतौर पर 30 से 50 किलोग्राम के बीच होता है। एक फल का वजन औसतन 125 ग्राम होता है, इसमें से लगभग तीन चौथाई पानी है।

प्रत्येक केले में एक सुरक्षात्मक बाहरी परत होती है और अंदर एक मांसल हिस्सा होता है जो आसानी से तीन खंडों में बंट जाता है। यह दुनिया में एकमात्र ज्ञात त्रि-खंड वाला फल है। केले में विटामिन बी6, विटामिन सी और पोटैशियम अधिक मात्रा में होता है।

3. Mango (आम)

आम भारत का राष्ट्रीय फल है और यह सबसे पसंदीदा फलों में से एक है। आम एक उष्ण कटिबंधीय फल है और यह उष्ण कटिबंध की गर्म वातावरण में अच्छी तरह से बढ़ता है। ज्यादातर आम अंडाकार होते हैं और आम की त्वचा का रंग हरे, पीले से लाल रंग में भिन्न होता है। आम में एक बड़ा बीज होता है और आम का बीज अखाद्य और कठोर होता है, जिसे हम गुटली कहते है।

भारत में हर साल भारी मात्रा में आम का उत्पादन होता है। गर्मी के मौसम में लोग इसे लगभग रोज ही खाते हैं। गर्मी के मौसम में बच्चों को आम खाना बहुत पसंद होता है और उनका मानना ​​है कि आम के बिना उनकी छुट्टी अधूरी है। यह भारत में सबसे अधिक प्रतीक्षित फल है क्योंकि यह सभी आयु के लोगो द्वारा पसंद किया जाता है।

इसकी रंग, बनावट अद्वितीय है और इसकी गंध सभी को तरोताजा कर देती है। फलों का स्वाद इतना प्रामाणिक होता है कि लोग उन्हें किसी भी रूप में खाना पसंद करते हैं, यहां तक ​​कि कच्चा या पका हुआ भी खाया जाता है। इस फल के कई स्वास्थ्यवर्धक उपयोग हैं और यह ढेर सारे व्यंजन बनाने में बहुत अच्छा काम करता है।

4. Grapes (अंगूर)

अंगूर गोल और आकार में छोटे होते हैं। और यह स्वादिष्ट और ताज़ा खाये जाने वाले फलों में से एक है। अंगूर स्वाद में खट्टे और मीठे होते हैं। यह एक रसीला फल है, इसमें बहुत सारा रस होता है। अंगूर का उपयोग कई चीजें और पेय जूस, जैम, वाइन आदि बनाने के लिए किया जाता है।

अंगूर का प्रयोग ज्यादातर दुनिया के सभी हिस्से में किया जाता है। और इसके उपोत्पाद फलों से ज्यादा प्रसिद्ध हैं। अंगूर गुच्छों में पाए जाते हैं, और इसे बढ़ने के लिए गर्म और शुष्क पर्यावरण की आवश्यकता होती है क्योंकि नमी से बीमारियां फैल सकती हैं।

अंगूर तीन रंग हरे, काले और लाल रंग के होते हैं। लेकिन सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला हरा है क्योंकि यह अधिक पौष्टिक होता है, और अन्य दो रंगों का उपयोग इसके उपोत्पाद तैयार करने के लिए अधिक किया जाता है। दुनिया में सबसे बड़ा अंगूर उत्पादक इटली और फ्रांस है। भारत में, अंगूर ज्यादातर महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में उगाए जाते हैं। यह भारत के उत्तरी भाग में मौसमी फसल के रूप में उगाया जाता है।

दुनिया में लगभग 10,000 प्रकार के अंगूर पाए जाते हैं, और उनमें से 20 से अधिक भारत में उगाए जाते हैं। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर, मिनरल और विटामिन होते हैं, जो इसे पौष्टिक बनाते हैं। अंगूर में आमतौर पर विटामिन ए और सी पाया जाता है। यह एक साइट्रस फल है। अंगूर को सीधे रेजिन के रूप में, जैम, जेली में, और शराब में लोगों द्वारा पिया जा सकता है।

5. Sapota or Naseberry (चीकू)

चीकू दक्षिणी मेक्सिको, मध्य अमेरिका और कैरिबियन के मूल निवासी एक हर सीजन
में फल देने वाले पेड़ है। इसे आमतौर पर कई देशों में सपोडिला के रूप में जाना जाता है। यह एक लंबे समय तक जीवित रहने वाला पेड़ है जो केवल गर्म, उष्णकटिबंधीय वातावरण में ही उग रहता है। सपोडिला का उत्पादन पाकिस्तान, भारत, थाईलैंड, मलेशिया, कंबोडिया, इंडोनेशिया, वियतनाम, बांग्लादेश और मैक्सिको जैसे कई देशों में किया जाता है।

दुनिया का प्रत्येक क्षेत्र चीकू को एक अलग नाम से जाना जाता है और ऐसा ही भारत में भी इसका एक अलग ही नाम है। भारत में इस फल या पेड़ को आमतौर पर चीकू कहा जाता है। इस फल की खेती मुख्य रूप से गुजरात, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और तमिलनाडु में व्यापक रूप से की जाती है।

भारत में सपोटा के पेड़ की खेती मुख्य रूप से फल के उत्पादन के कारण की जाती है, जो अपने स्वाद के लिए बहोत ही प्रसिद्ध है। इस फल को ज्यूस बनाके या कच्चा खाया जाता है. इस फल का कलर ब्राउन यानि भूरा होता है और इसका स्वाद काफी मीठा होता है. इस फल के अंदर एक या दो काले रंग के बीज होते है, जो खाने योग्य नहीं होते है.

6. Orange (संतरा)

नारंगी शब्द कई खट्टे पेड़ों को दर्शा सकता है, जो लोगों के खाने के लिए फल देते हैं। संतरा विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है। संतरे का रस कई लोगों के सुभे के नाश्ते का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। स्वीट ऑरेंज जो कि आज दुनिया में सबसे अधिक खाया जाता है, पहले यह दक्षिण और पूर्वी एशिया में उगाया जाता था, लेकिन अब यह दुनिया के कई हिस्सों में उगता है।

संतरे गोल और नारंगी रंग के फल होते हैं जो एक पेड़ पर उगते हैं, जो 10 मीटर तक ऊंचाई तक उचा हो सकता है। इसके के पेड़ों में गहरे हरे रंग की चमकदार पत्तियाँ और छोटे छोटे सफेद फूल होते हैं। फूलों की महक भी बहुत मीठी होती है जो मधुमक्खियों को बहोत ही आकर्षित करती है।

फल के ऊपर सख्त चमकदार नारंगी त्वचा होती है, इसकी बाहरी परत में एसिड होता है। अंदर यह फल अलग अलग खंडों में विभाजित होता है। एक संतरे में आमतौर पर दस खंड होते हैं, लेकिन कभी-कभी कम या ज्यादा हो सकते हैं।

7. Watermelons (तरबूज)

तरबूज गोलाकार या लम्ब गोलाकार आकार का एक बड़ा फल है। इसे आमतौर पर इसे कच्चा ही खाया जाता है। इसमें एक मीठा लाल रंग का मांस होता है। यह एक बहुत ही ताज़ा भोजन है जो बहुत कम कैलोरी प्रदान करता है। यह कुछ विटामिन और खनिज भी आपको प्रदान करता है।

तरबूज एक बड़ा फल है, जिसका व्यास 25 सेमी तक होता है, कुछ मामलों में इसका वजन 15 किग्रा तक हो सकता है। इसका छिलका अंडाकार या गोलाकार आकार और गहरा हरा होता है, जो कभी-कभी हल्के हरे रंग के होते है। पिछले कुछ वर्षों में उगाई गई कुछ नई किस्मों ने इस क्लासिक विशेषता को बदल दिया है, जिसमें बीज रहित फल, पीले गूदे की और छोटे फल होते हैं।

इसका उपयोग शर्बत और जैम बनाने के लिए किया जाता है। रूस में वे तरबूज के रस की एक बहुत लोकप्रिय शराब तैयार कियी जाती हैं। यह फल पानी में बहुत समृद्ध है, इसमें कैलरी में कम है। इसके अलावा, यह पोटेशियम और विटामिन ए का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। यह मूत्रवर्धक गुणों के साथ एक ताज़ा फल है।

8. Papaya (पपीता)

पपीता एक अल्पकालिक बारहमासी पेड़ है जो 30 फीट तक ऊंचा हो सकता है। इसके पते बड़े होते है और फल भी काफी बड़ा पीला या नारंगी कलर का होता है. इस फल के अंदर का भाग खोखला होता है, जिसमे कही सारे काले चिकने बीज होते है.

पपीते के फल चिकने छिलके वाले होते हैं। वे विविधता और पौधे के प्रकार के आधार पर आकार और आकार में व्यापक रूप से भिन्न होते हैं। फल का वजन लगभग 300 से 800 ग्राम होता है। इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्त्व और विटामिन होते है जो मानव स्वास्थ्य के लिए काफी फयदेरुप है.

9. Dragon Fruit (ड्रैगन फल)

फल आकार में अंडाकार होता है, इसका वजन लगभग 8 से 12 औंस जितना होता है और इसकी लंबाई औसतन 10 से 15 सेंटीमीटर होती है। फल में हरी पत्तियों के साथ गुलाबी या लाल रंग की छाल होती है, जबकि अंदर एक सफेद रंग और छोटे काले बीज होते हैं जो बीज आपको कीवी की तरह दिखेंगे। स्वाद में थोड़ा खरा तो कभी खट्टा लगता है। ड्रैगन फ्रूट पूरे साल गर्मियों की शुरुआत में और शरद ऋतु के अंत के साथ हो जाता है।

ड्रैगन फ्रूट, जिसे पितया के नाम से भी जाना जाता है और वर्तमान में गुजरात में इसका नाम कमलम रखा गया है। यह कैक्टस जीनस जाती का एक फल है, और एक पौधे के रूप में यह दो अलग-अलग प्रजातियों में पाया जाता है- हिलोसेरेस और सेलेनिचेरियस। हालांकि, सबसे व्यापक रूप से उगाई जाने वाली किस्म सफेद जीनस फ्रूट हैलोसेरेस है। अगर बात करें इस पौधे की तो इसके फूल साल में एक रात ही खिलते हैं। रात भर खिलने वाले फूल झड़ जाते हैं। हालांकि फूल अल्पकालिक होते हैं और पौधे साल में लगभग 4 से 6 बार फल देते हैं।

dragon fruits name in hindi- ड्रैगन फलों के नाम
dragon fruits name in hindi- ड्रैगन फलों के नाम

ड्रैगन फ्रूट फाइटोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सिडेंट से और कैरोटीन और विटामिन सी से भी भरपूर होता है, और इसके पोषण और जीवाणुरोधी गुण पाचन में सुधार, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने और ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने के लिए मनुष्य के लिए बहुत उपयोगी होते हैं।

ड्रैगन फ्रूट में लगभग 80% पानी होता है और यह आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन बी, फास्फोरस, प्रोटीन, कैल्शियम और फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। इस फल के बीज ओमेगा -3 और ओमेगा -6 फैटी एसिड जैसे पॉलीअनसेचुरेटेड वसा की उच्च सामग्री के कारण भी पौष्टिक होते हैं, जो हृदय संबंधी विकारों के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

ड्रैगन फ्रूट को कच्चा खाया जाता है, लेकिन इसे रेसिपी के साथ भी खाया जा सकता है। फलों का उपयोग जैम या फ्लेवर्ड आइस क्रीम, शर्बत और अन्य डेसर्ट बनाने के लिए किया जा सकता है, जबकि फलों के सिरप का उपयोग अक्सर पेस्ट्री और कैंडीज को रंगने के लिए किया जाता है।

माना जाता है कि ड्रैगन फ्रूट अमेरिका का मूल निवासी है, जो दक्षिणी मैक्सिको से कोस्टा रिका तक पाया जाता है। ड्रैगन फ्रूट की खोज सबसे पहले सदियों पहले मध्य अमेरिका में हुई थी। लेकिन आज थाईलैंड, इज़राइल, ऑस्ट्रेलिया, चीन, इंडोनेशिया और कई अन्य देशों में उत्पादित ड्रैगन फ्रूट 20 से अधिक देशों में पाया जाता है।

10. Kiwi (कीवी)

कीवी को कीवीफ्रूट या चाइनीज आंवला और एक्टिनिडेसियस फल भी कहा जाता है। यह फल चीन और ताइवान के मूल निवासी है और न्यूजीलैंड और कैलिफोर्निया में व्यावसायिक रूप से खेती की जाती है। इस फल का स्वाद थोड़ा खट्टा होता है और इसे कच्चा या पका कर खाया जा सकता है। इस फल का रस कभी-कभी मांस टेंडरिज़र के रूप में प्रयोग किया जाता है। कच्ची कीवी में विटामिन सी और के की मात्रा अधिक होती है।

kiwi fruits name in hindi- कीवी फलों के नाम
kiwi fruits name in hindi- कीवी फलों के नाम

कीवी के पौधे कीटाणुनाशक होता हैं। अण्डाकार कीवी फल एक प्रकार का बेरी फल है और इसमें भूरी त्वचा पाई जाती है। फल का अंदर भाग सफेद के साथ पारभासी हरा है और बीच में अधिक मात्रा में बैंगनी रंग या काले रंग के बीज होते हैं।

FAQ

20 फलों के नाम इंग्लिश में बताइए

Apple, Mango, Banana, Orange, Coconut, Pineapple, Grapes, Papaya, Sapota, Guava, Lemon, Sugar cane, Watermelon, Muskmelon, Apricots, Pomegranate, Black Currant और Water chestnut जो भारत में मुख्य रूप से खाये जाते है और उगाये जाते है.

1000 फलों के नाम बताइए।

वैसे तो फलो के 1000 से ज्यादा किस्मे विश्व में मौजूद है पर उनकी सूचि बनाना थोड़ी मुश्किल है. इस आर्टिकल में आपको 50 से ज्यादा फलो के नाम की एक सूचि मिल जाएगी।

विटामिन सी वाले फलों के नाम कोनसे है?

खरबूजा, संतरा, अंगूर, कीवी फल, आम, पपीता, तरबूज, अनानस, स्ट्रॉबेरी, रास्पबेरी, ब्लूबेरी और क्रैनबेरी में मुख्य रूप से विटामिन सी पाया जाता है.

विटामिन डी वाले फलों के नाम कोनसे है?

संतरा और बादाम में मुख्य रूप से विटामिन डी मिलता है.

पांच फलों के नाम (Panch falon ke naam)

सेब, आम, केला, संतरा और चीकू भारत के 5 लोकप्रिय फल है, जो सभी जगाय आसानी से पाया जाता है.

ड्रैगन फल का हिंदी नाम क्या है? (dragon fruit in Hindi name)

वैसे तो हिंदी में भी इसका नाम ड्रैगन फल है, पर इसको हाल ही में गुजरात में “कमलम” नाम दिया गया है.

कीवी फल का नाम हिंदी नाम क्या है? (kiwi fruit in Hindi name)

यह एक विदेशी फल है जिसका हिंदी नाम भी कीवी ही है.

अर्जुन ट्री का हिंदी में नाम क्या है? (arjun tree fruit Hindi in hindi)

यह एक तमिल जाड है जिसका हिंदी नाम सामान है.

ब्लेकबेरी का हिंदी में नाम क्या है? (black berry fruit name in Hindi)

इसके बारेमे मुझे जानकरी है तब तक इसे सेतुर कहा जाता है, जो काले जामुन जैसे पर छोटे फल है.

एवोकाडो का हिंदी में नाम क्या है? (Avocado fruit name in Hindi)

Avocado एक नाशपाती जैसे दिखने वाला फल है जिसे हिंदी में भी एवोकाडो कहा जाता है. यह मूल रूप से उतर अमरीकी और मेक्सिकन फल है.

Summary

आशा है की “20+ India’s Popular Fruits Name In Hindi and English- Falo Ke Naam Hindi Me (भारतीय फलों के नाम हिंदी और इंग्लिश में)” आर्टिकल आपको पसंद आया होगा और आपको जो जानकरी चाहिए थी वह आपको मिल गयी होगी। अगर आपको फिरभी कोई प्रश्न है तो आप निचे comment कर के हमें बता सकते है और हमारे ब्लॉग hindi-english.com को विजिट करते र

Leave a Comment

hindi-english-logo-main

In this website you can find Useful Information, Dictionary, Essay, Kids Learning, Student Material, Stories, Tech Updates, Suvichar and Full Form in Hindi.

Contact us

Address- 17, Einsteinpalais, Friedrichstraße, Berlin Mitte, Berlin, Germany- 10117

hindienglishblog@gmail.com

Mon to Friday
9:00 am to 18:00 pm